Home बंद गलियां

बंद गलियां

नीरव मोदी वाले PNB और लाल बहादुर शास्त्री के PNB में फर्क तो है…एक बार की बात है…

भरोसा कहीं भी मिल सकता है और कहीं भी टूट सकता है। भरोसा बिन आधार कार्ड के देश के किसी भी कोने में रहता...

कला आंदोलन का नया स्वरूप है सीधी का लोक रंग महोत्सव

seedhi rang mahotsav
सीधी (सिद्धगिरि) में रंगकर्म की अनगूँज तो सुनायी पडी थी, पर देखने के पहले तक उम्मीद न थी कि वहाँ रोशनी के साथ नीरज...

बिक गयी ‘पद्मावत’ भंसाली की बज़ार में….

सत्यदेव त्रिपाठी।  आख़िर भंसाली के थैले से बिल्ली बाहर आ ही गयी...(द कैट इज़ आउट ऑफ भंसालीज़ बैग)!! और थैले में हमेशा के लिए...

बेटियों को लिहाज के साथ अब बदलिहाजी भी तो सिखानी होगी।

आज मेरी बेटी बताए वक्त से बीस मिनट देर से घर पहुंची. लोगों को ये बात बेहद आम लगे लेकिन मैंने ये बीस मिनट...

कोख में बेटियों को मारने वाले मर्दों से बेहतर है बेटियों को पालने वाली ये किन्नर

उसे अपनी कोख से बेटियां पैदा करने का सुख तो नहीं मिला लेकिन बेटियों को पाल कर वो अपने मातृत्व का साया दो बेटियों...