Home भारत

भारत

देश की वो घटनाएं जो आप पर प्रभाव डालती हैं। जिन्हें एक अलग नजरिए से समझना भी जरूरी हो।

तीन हेलिकॉप्टरों के काफिले में चलते प्रधानमंत्री और ठेले पर लदी गर्भवती।

इस देश के बहुत कम लोगों को मालूम होगा कि इस देश का प्रधानमंत्री आसमान में भी तीन हेलिकॉप्टरों के काफिले...

वो व्हील चेयर पर चलती हैं और मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने निकली हैं, बेमिसाल है उनका जज्बा

ये दुनिया बेमिसाल जज्बा रखने वालों से भरी पड़ी है। आप तलाशने निकलेंगे एक को तो सौ मिलेंगे। ऐसी ही एक...

अगर आप अब भी नहीं मानते कि चाय वाला मीडिया को चलाता है तो ये तस्वीर आपको देख लेनी चाहिए

याद है, हो सकता है न भी याद हो क्योंकि अब इसे बार बार दोहराने की फिलहाल जरूरत नहीं है। 2014...

ऑक्सीजन की कमी से उनके बच्चे मरे थे, कैसे बताऊं कि देश बुलेट ट्रेन में बैठेगा?

अगर आप एक इंसान हैं तो बच्चों की मौतें आपको अंदर तक झकझोर कर रख ही देंगी। हो सकता है कि...

नरेंद्र मोदी तो फोटो शॉप वाली प्रिया, डॉली से लेकर रितिक तक को फॉलो करते हैं

गौरी लंकेश की हत्या के बाद एक शख्स की चर्चा खूब हो रही है। वो हैं निखिल दधीच। निखिल दो वजहों...

कवि दुष्यंत कुमार का घर तोड़े जाने के बाद बृजेश राजपूत की ये स्टोरी शून्य के और गहरे होने का एहसास कराती है

जाने माने कवि स्वर्गीय दुष्यंत कुमार का मध्यप्रदेश के भोपाल में स्थित घर तोड़ दिया गया है। स्मार्ट सिटी बनाने के...

ये हैं 1962 में हुए भारत चीन युद्ध की तस्वीरें

एक तस्वीर में हजार शब्द करने की ताकत होती है। इस पोस्ट में हम भारत और चीन के बीच 1962 में...

ये हैं भारत के इकलौते बॉडी बिल्डर दंपत्ति, जीत चुके हैं कई मेडल, तीन बच्चे भी हैं

आपने कई प्रेम कहानियां सुनी होंगी। एक नाजुक सी लड़की, एक दिलदार सा लड़का, दोनों की आंखें लड़ी, इश्क हो गया,...

बनियान पहन के प्लेटफार्म पर स्प्राइट की बोतल में हैंडपंप का पानी भरने की आदत छोड़ दो, बुलेट ट्रेन चलने वाली है

गैंग्स ऑफ वासेपुर देखे हैं? नहीं भी देखे तो क्या कर लेंगे। लेकिन शानदार, जबरदस्त तो सुने ही होंगे। नहीं भी सुने...

कबीर के बहाने काशी में हिंदुओं की आस्था से खेल तो नहीं रहे नरेंद्र मोदी, पूछना जरूरी है

सियासत अपने नफा नुकसान के लिए बड़ी महीन सी लकीरों को खाई में किस तरह बदल देती है ये समझना जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र...

इंदिरा का लगाया आपातकाल अब भी मौजूद है, रंग बदला है और नाम भी

आज सबसे पहले बात देश के लोकतांत्रिक इतिहास में काले धब्बे की तरह माने जाने वाले आपातकाल की। 25 जून 1975 की वो तारीख...

पहाड़ की इन बेटियों की कहानी हमें ताकत देती है, पढ़ेंगे तो शायद कमजोरियां हारेंगी

उत्तराखंड के पहाड़ बदस्तूर जारी पलायन से वीरान होते जा रहे हैं, वहां न रोजी-रोटी का कोई संसाधन है, न शिक्षा और चिकित्सा की...

हर चुनाव में प्रधानमंत्री झूठ का नायाब उदाहरण पेश करते हैं…

RAVISH KUMAR. तथ्यों को कैसे तोड़ा-मरोड़ा जाता है, आप प्रधानमंत्री से सीख सकते हैं. मैं इन्हें सरासर झूठ कहता हूं, क्योंकि यह खास तरीके से डिज़ाइन...

जिन्ना की तस्वीर हटा देने भर से देशभक्ति के तकाज़े पूरे नहीं होंगे, कुछ और मूर्तियां गिरानी होंगी

PRIYADARSHAN. मोहम्मद अली जिन्ना की वजह से देश दो हिस्सों में बंट गया. वे भारत विभाजन के गुनहगार हैं. उनकी मदद से अंग्रेजों ने...